संसार

कीर्तिदा भोगदा कामदा संसार। ये दुनिया से तुम्हे भोग काम और कीर्ति मिलती है ।और कमाल यह भी है विनम्र ही जुड़े हैआप। आप भी यही तो दे सकते है ।


नाशवंत जगत पाह रूह अन्तर्यामी

नींद जगत तेज तुरी सपन ज्ञान ध्यानी


टिप्पणियां

इस ब्लॉग से लोकप्रिय पोस्ट

पंचाग्नि विद्या

स्वच्छता को लाना होगा !

तत्व फल